فيديو

42 स्कूलों में नर्सरी एडमिशन प्रक्रिया पर लगी रोक, होगी कानूनी कार्रवाई



नई दिल्ली.दिल्ली शिक्षा निदेशालय की ओर से राजधानी के 42 पब्लिक स्कूलों के नर्सरी दाखिले पर रोक लगा दी गई है। सभी स्कूलों को 14 दिसंबर तक अपने क्राइटेरिया और प्वाइंट सिस्टम निदेशालय की वेबसाइट पर अपलोड करने थे। लेकिन इन 42 स्कूलों ने अपने स्कूलों की दाखिला संबंधी जानकारी निदेशालय को नहीं सौंपी थी।

इन स्कूलों के खिलाफ दिल्ली एजुकेशन एक्ट-1973 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी। शिक्षा निदेशालय के डायरेक्टर संजय गोयल ने बताया कि कई बड़े स्कूलों ने भी क्राइटेरिया अपलोड नहीं किया है। इन स्कूलों में एडमिशन प्रोसेस पर फिलहाल रोक लगा दी गई है। उनके खिलाफ कानूनी एक्शन लिया जाएगा।

15 दिसंबर को जारी सर्कुलर में कई स्कूलों को चेतावनी दी थी, सब पर असर नहीं हुआ :

शिक्षा निदेशालय के दिशा निर्देशानुसार सभी स्कूलों को नर्सरी एडमिशन प्रक्रिया के तहत 14 दिसंबर तक क्राइटेरिया वेबसाइट पर अपलोड करना था। लेकिन 15 दिसंबर दोपहर 1 बजे तक 105 स्कूलों ने ही अपलोड किया था। शिक्षा निदेशक ने 15 दिसंबर को जारी सर्कुलर में 105 स्कूलों को चेतावनी दी थी।

इनको शनिवार रात 9 बजे तक का समय दिया था। अभिभावकों को भी कहा गया था कि अगर स्कूल दाखिला की जानकारी नहीं देते तो उनमें बच्चे का एडमिशन कराने से बचें। चेतावनी के बाद रात के 9 बजे तक ज्यादातर स्कूलों ने जानकारी अपलोड कर दी थी। सर्कुलर के बाद भी 42 स्कूलों ने जानकारी अपलोड नहीं की। इन स्कूलों में कई नामी स्कूल भी शामिल हैं। इन स्कूलों के लिए निदेशालय की ओर से ढील देने की जानकारी नहीं दी गई है।

दून पब्लिक स्कूल-जनकपुरी, एयरफोर्स स्कूल पंचवटी-द्वारका, पब्लिक स्कूल-करोला, जीसस एंड मैरी पब्लिक स्कूल-विजय एंक्लेव, गुरु हरकिशन मॉडल-राजनगर पार्ट-टू, एयरफोर्स स्कूल-पंचवटी, रेयान इंटरनेशनल स्कूल घड़ौली आदि।
(क्राइटेरिया न अपलोड करने वाले स्कूलों के प्रिंसिपल से बात करने की कोशिश हुई, उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया)

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Restrictions on Nursery Admission Process in Schools

مقالات ذات صلة

زر الذهاب إلى الأعلى
إغلاق