فيديو

सुविचार दुख को दूर करने की एक ही अमोघ औषधि है। वह है- दुखों की चिंता न करना।




4 साल की सबसे सर्द सुबह, पारा @ 3.40C
ये है दिल्ली की सर्दी…
नई दिल्ली |पहाड़ों में हो रही बर्फबारी से दिल्ली समेत पूरा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है। दिल्ली का न्यूनतम तापमान सामान्य से 3 डिग्री नीचे 3.4 डिग्री दर्ज किया गया। यह न सिर्फ इस सर्द सीजन का सबसे कम है बल्कि पिछले 4 साल में सबसे सर्द सुबह का रिकार्ड भी है।
नई दिल्ली, शुक्रवार 28 दिसंबर, 2018
गुड़गांव में तापमान पहुंचा 1.5 डिग्री पर|
गुड़गांव में तापमान 1.5 डिग्री दर्ज किया जबकि उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में सबसे नीचे यूपी के मुजफ्फरनगर में 0.2 डिग्री रहा। पंजाब के अमृतसर में 1 डिग्री दर्ज हुआ। दिल्ली व पश्चिम यूपी में विजिबिलिटी 500 मीटर तक दर्ज किया गया।
हरियाणा : 5 साल बाद हिसार में पारा माइनस में |हरियाणा के हिसार में पारा माइनस 1 डिग्री रहा। 2013 में भी इतना ही तापमान था। सिरसा, नारनौल, कुरुक्षेत्र, करनाल में पारा 5 डिग्री से नीचे रहा। पंजाब-चंडीगढ़ में शीतलहर है। दिल्ली में पारा 3.7 डिग्री रहा, जो सीजन में दूसरा सबसे कम है। 10 दिन तक दिल्ली में ठंड से राहत के आसार नहीं है।
उत्तराखंड में 11 पर्वतारोहियों को बचाया गया
आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1 अखबार
पौष, कृष्ण पक्ष सप्तमी-2075
कुल पृष्ठ 14| मूल्य Rs. 5.00 | वर्ष 12, अंक 174
शिमला में झरने तक जमे।
उत्तराखंड में पिथोरागढ़ जिले के मुंसियारी में बर्फ में फंसे 11 पर्वताराेहियों को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ने बचा लिया है। ये लोग मुंशियारी की 7200 फीट ऊंची चोटी पर 24 दिसंबर को हुई भारी बर्फबारी में फंस गए थे।
राजस्थान: फतेहपुर में माइनस 2.2 डिग्री
राजस्थान में सीकर के फतेहपुर में दूसरे दिन भी पारा माइनस 2.2 डिग्री रहा। प्रदेश में 5 जगहों पर पारा 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा है। मौसम विभाग ने अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा सहित प्रदेश के 12 शहरों में अगले चार दिन तक शीतलहर चलने की चेतावनी जारी की है।
मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ में 29 दिसंबर तक राहत नहीं|मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी शीतलहर चल रही है। दोनों राज्यों के कई जिलों में पारा सामान्य से दो डिग्री नीचे है। छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग के मुताबिक मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में अगले तीन दिन तक शीतलहर से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।
फोटे|गुरुवार सुबह यमुना का किनारा
12 राज्य | 66 संस्करण
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow


New Delhi News – dissenting is the only impractical drug to overcome suffering that is do not worry about sorrow

مقالات ذات صلة

زر الذهاب إلى الأعلى
إغلاق