أخبار العالم

ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिम येरुशलम को इजरायल की राजधानी माना



मेलबर्न. ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिमी येरुशलम को इजरायल की आधिकारिक राजधानी माना है। शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने इसकी पुष्टि की। हालांकि, उन्होंने साफ किया कि ऑस्ट्रेलिया के दूतावास को तेल अवीव से तब तक शिफ्ट नहीं किया जाएगा, जब तक इजरायल और फिलिस्तीन दोनों येरुशलम पर सालों से चल रहे विवाद को सुलझा नहीं लेते।

  1. जानकारी के मुताबिक, मॉरिसन ने यह फैसला घरेलू और अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों से चर्चा करने के बाद लिया। सिडनी में एक कार्यक्रम के दौरान मॉरिसन ने कहा कि हम आगे येरुशलम की स्थिति तय हो जाने पर अपने दूतावास को भी पश्चिमी येरुशलम शिफ्ट कर देंगे। ऑस्ट्रेलिया ने इसी साल अक्टूबर में येरुशलम को लेकर अपनी नीतियों की समीक्षा का ऐलान किया था। इस पर इजरायल ने खुशी जताई थी, जबकि फिलिस्तीन ने इसकी आलोचना की थी।

  2. येरुशलम इजरायल और फिलिस्तीन के बीच लंबे समय से येरुशलम को लेकर विवाद है। दरअसल, इजरायल पूरे येरुशलम को अपनी प्राचीन और अविभाज्य राजधानी मानता है। वहीं फिलिस्तीन येरुशलम के पूर्वी हिस्से पर अपना दावा करता है। इस हिस्से पर इजरायल ने 1967 की मिडिल-ईस्ट वॉर में कब्जा कर लिया था।

  3. येरुशलम पर इजरायल की स्वायत्ता को अब तक अंतरराष्ट्रीय मान्यता नहीं मिल पाई है। 1993 में हुए एक शांति समझौते के मुताबिक, येरुशलम की स्थिति को लेकर दोनों देशों के बीच शांति वार्ता होनी हैं। हालांकि, 1967 के बाद से ही इजरायल ने यहां कई निर्माण कर लिए हैं। अभी पूर्वी येरुशलम में करीब 2 लाख यहूदियों के घर हैं। अंतरराष्ट्रीय कानून के मुताबिक यह गलत है, लेकिन इजरायल इसे नहीं मानता।

  4. ऑस्ट्रेलिया ने जब अक्टूबर में येरुशलम के लिए नीति समीक्षा का ऐलान किया था तब दुनिया की सबसे बड़ी मुस्लिम जनसंख्या वाले इंडोनेशिया ने उसे चेतावनी दी थी। इसके चलते शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने इंडोनेशिया जाने वाले अपने पर्यटकों से सावधानी बरतने की अपील की। प्रधानमंत्री मॉरिसन ने कहा कि वे मध्य-पूर्व में उदार लोकतंत्र के पक्ष में हैं।

  5. अमेरिका ने पिछले साल येरुशलम में दूतावास बनाने का ऐलान किया था। उसके इस फैसले की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना हुई थी। दिसंबर 2017 में संयुक्तर राष्ट्र के सदस्य देशों ने भी अमेरिका के इस फैसले के खिलाफ वोट किया था। हालांकि, इसके बावजूद अमेरिका ने साल की शुरुआत में येरुशलम में अपने दूतावास का उद्घाटन कर दिया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Australia recognises Jerusalem as Israel's Capital

Original Article

مقالات ذات صلة

زر الذهاب إلى الأعلى
إغلاق