فيديو

इंस्पेक्टर सुबोध को गोली मारने का आरोपी प्रशांत नट गिरफ्तार




बुलंदशहर हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को गोली मारने के आरोप में पुलिस ने चिंगरावठी गांव के एक टैक्सी ड्राइवर प्रशांत नट को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि उसने इंस्पेक्टर सुबोध को उन्हीं की पिस्टल से गोली मारने की बात कबूली है। हालांकि, घटना के बाद से गायब इंस्पेक्टर की .32 बोर की पिस्टल पुलिस बरामद नहीं कर पाई है।
तीन दिसंबर को बुलंदशहर में गाय के कटे अवशेष मिलने के बाद हिंसा भड़क गई थी। हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक युवक सुमित की मौत हुई थी। बुलंदशहर के एएसपी (क्राइम) के अनुसार नट ने बताया कि पथराव में घायल इंस्पेक्टर को सुमित और अन्य लोगों ने खेत में दौड़ाया था। इसी दौरान इंस्पेक्टर ने फायर किया और सुमित को गोली लग गई। इसके बाद प्रशांत ने इंस्पेक्टर को पीछे से पकड़कर पिस्टल छीन ली और गोली मार दी। पुलिस के अनुसार आपराधिक पृष्ठभूमि का नट छोटे-माेटे अपराधों में शामिल रहा है।
बुलंदशहर हिंसा मामला
शुरुआती एफआईआर में नहीं था नट का नाम
एफआईआर में पुलिस ने बजरंग दल के जिला अध्यक्ष योगेश राज को मुख्य आरोपी बनाया था। वहीं स्याना में भाजपा युवा विंग का प्रमुख शिखर अग्रवाल और विहिप कार्यकर्ता उपेंद्र राघव का नाम भी था। घटना के बाद से यह सभी फरार हैं। उस एफआईआर में आरोपी बनाए गए 27 लोगों में नट का नाम नहीं था। घटना के बाद वह अपने परिवार के साथ गांव से फरार हो गया था। पुलिस का दावा है कि वीडियो फुटेज से इस हत्याकांड में उसका हाथ होने की पुष्टि हुई थी। हत्या के आरोप में पहले पुलिस ने एक सैनिक जितेंद्र मलिक को भी गिरफ्तार किया था।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

مقالات ذات صلة

زر الذهاب إلى الأعلى
إغلاق