عرض مشاركة واحدة
  #1  
قديم 03-17-2020, 08:33 PM
ahlam1399 ahlam1399 غير متواجد حالياً
Administrator
 
تاريخ التسجيل: Sep 2012
المشاركات: 4,027,604
افتراضي महिलाओं में हार्ट संबंधी बीमारी का कारण व 


जयपुर।आज के समय में बदलती लाइफस्टाल और गलत खानपान के कारण हमारा शरीर कई रोगो का शिकार बनता जा रहा है।वहीं पुरूषों के मुकाबले महिलाओं में कई घातक बीमारिया अधिक होती है क्योंकि उनके शरीर के हार्मोन्स जल्दी वायरल और अन्य बीमारियो को शिकार हो जाते है।महिलाओं कैंसर,डायबिटीज और हृदय संबंधी बीमारिया अधिक देखने को मिलती है। महिलाओं में हार्ट संबंधी बीमारियों का मुख्य कारण उनका शारीरिक और मानसिक तनाव, कई बार यह बीमारी अनुवांशिक तौर पर भी देखी जा सकती है।

इसके महिलाओं की रजोनिवृति भी हार्ट संबंधी बीमारी को बढ़ाने का एक कारण माना जा सकता है क्योंकि रजनोनिवृति के बाद महिलाओं में हार्ट संबंधी बीमारियों की खतरा कई गुना बढ़ जाता है।महिलाओं में हार्ट अटैक से जुड़े कुछ लक्षण जिनको आप जानकर इस बीमारी को बढ़ने से पहले ही रोक या बचाव कर सकते है।
महिलाओं के शरीर में होने वाला दर्द, गर्दन, जबड़े, कंधे, पीठ की का दर्द, सांस लेने में परेशानी, जी मचलना अथवा उल्टियां की समस्या, घबराहट बनी रहना, चक्कर आना व असामान्य रूप से थकावट का बने रहना हार्ट संबंधी बीमारियों के लक्षण माने जाते है।
इन लक्षणों के साथ सीने में होने वाले तीव्र दर्द को हार्ट अटैक के रूप में पहचाना जा सकता है।विश्व में हार्ट संबंधी बीमारियां महिलाओं की मौत का एक बड़ा कारण बनती जा रही है।

हालांकि समय रहते इस समस्या का इलाज संभव है लेकिन देर होने में इससे मृत्यु तक हो सकती है।इसलिए अपने खानपान का विशेष ध्यान रख प्रतिदिन शारीरिक एक्सरसाइज कर हृदय संबंधी बीमारियो से बचा जा सकता है।
رد مع اقتباس